मोहब्बत के लिए
Created by

एहसास-ए-मोहब्बत के लिए
बस इतना ही काफ़ी है तेरे बगैर
भी हम तेरे ही रहते हैं !!!

This Post has
6190 views
0 comment
© 2019 - हिंदीशायरी.com