मोहब्बत हमारी
Created by

कैसे करूँ मे बयान अपनी तनहाईयाँ,
एक तेरे बिना ज़िने मे है परेशानिया ,
एक काश के तुम जान जाते मोहब्बत हमारी,
ये मोहब्बत नही एक एक इबादित है तुम्हारी.

This Post has
3563 views
0 comment
© 2021 - हिंदीशायरी.com